ew Delhi: इस साल उन वैज्ञानिकों को भौतिकी का नोबल पुरस्कार दिया गया, जिन्होंने ब्लैक होल्स से पर्दा उठाया था. ये पुरस्कार स्वीडन की रॉयल विज्ञान अकादमी ने दी. नोबल पुरस्कार रोजर पेनरोस, राइनहार्ड गेनजेल और आंद्रे गेज को दिया गया.. तीनों वैज्ञानिकों की खोज अंतरिक्ष में मौजूद ब्लैक होल से जुड़ी है.

वहीं, हेपेटाइटिस C वायरस की खोज करने वाले तीन वैज्ञानिकों को साल 2020 का मेडिसिन नोबेल पुरस्कार दिया गया है. ब्रितानी वैज्ञानिक माइकल हाउटन (Michael Houghton) और अमरीकी वैज्ञानिक हार्वे अल्‍टर (Harvey Alter) और चार्ल्‍स राइस ( Charles Rice) को मेडिसिन के क्षेत्र में यह पुरस्कार दिया गया है.

यूके में पैदा हुए और ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी में पढ़ाने वाले रोजर पेनरोस (Roger Penrose) ने पता लगाया है कि ब्लैक होल के निर्माण को सापेक्षता के सिद्धांत पर समझा जा सकता है. यह सिद्धांत अल्बर्ट आईंस्टाइन (Albert Einstein) ने दिया था. रोजर का जन्म 1931 में ब्रिटेन में हुआ था.

राइनहार्ड गेंजल और आंद्रेया गेज को हमारी आकाशगंगा के केंद्र में मौजूद एक अदृश्य लेकिन बेहद शक्तिशाली ऑब्जेक्ट यानी ब्लैकहोल की खोज के लिए सम्मानित किया गया.. भौतिकी में नोबेल पुरस्कार संयुक्त रूप से दिया गया.

About Author

Naina Shrivastava

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *