New Delhi: 5 अक्टूबर को जम्मू कश्मीर के नौशेरा सेक्टर में पाकिस्तान द्वारा किए गए संघ’र्ष विरा’म उ’ल्लंघन में जान गंवाने वाले सूबेदार सुखदेव सिंह का पार्थिव शरीर अंतिम श्रद्धांजलि के लिए ऊधमपुर के पियूनी गांव लाया गया. बेटे को तिरंगे में लिपटा देख हर किसी की आंखें भर आईं.

भारत की रक्षा करते हुए देश ने 2 और बहादुर जवानों को खो दिया है. देश के दो लाल मां भारती की रक्षा में श’हीद हो गए.. उन्हें नम आंखों से अंतिम विदाई दी गई. बता दें कि जम्मू-कश्मीर के पंपोर में आ’तंकवा’दी ‘हमले में जान गंवाने वाले केंद्रीय रिज़र्व पुलिस बल(CRPF) के दो जवानों को श्रीनगर में श्रद्धांजलि दी गई.

बताया जा रहा है कि पंपोर के कांधीजल ब्रिज पर सीआरपीएफ की 110 बटालियन और जम्मू-कश्मीर पुलिस के जवान रोड ओपनिंग ड्यूटी (आरओपी) पर तैनात थे, तभी आ’तंकि’यों ने अं’धा’धुं’ध फा’यरिंग शुरू कर दी. सेना की तरफ से भी करारा जवाब दिया गया.

ह’म’ला उस वक्त हुआ, जब पुलिस और सीआरपीएफ के जवान गश्त कर रहे थे. तभी जवानों पर ह’मला पंपोर के कंडाल इलाके में आ’तंकवा’दियों ने घा’त लगाकर ह’मला किया.हम’ले में पांच सीआरपीएफ के जवान बुरी तरह ज’ख्मी हो गए, उन्हें तत्काल जिला अस्पताल ले जाया गया, जहां दो जवानों की मौ’त हो गई. घायल जवानों का इलाज किया जा रहा है.

शहीद जवानों में एक यूपी के रायबरेली के शैलेंद्र प्रताप सिंह थे. सीएम योगी ने उनके सर्वोच्च बलिदान पर गहरा शोक व्यक्त किया है. सीएम योगी ने कहा है कि आपकी वीरता और राष्ट्र सेवा भाव को नमन. उत्तर प्रदेश को आप पर गर्व है. जय हिंद!

About Author

Naina Shrivastava

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *