New Delhi: गरीबों के मसीहा बने सोनू सूद को लोग भगवान का अवतार मानकर पूज रहे हैं. यहां तक की अब दुर्गा पंडालों में सोनू सूद की मूर्ति लगाई जा रही है.

कोरोना महामारी के बीच सोनू सूद ने जिस तरह सेहर एक जरूरतमंद की मदद की है. वह एक मिसाल बनकर देश के सामने है. देश ही नहीं विदेशों में भी सोनू सूद की दीवानगी देखने को मिल रही है. क्योंकि सोनू सूद ने विदेशों में फंसे कई लोगों की वतन वापसी करवाई.

महामारी के बीच प्रवासियों के लिए मसीहा बनने वाले बॉलीवुड अभिनेता सोनू सूद कोलकाता में पूजा के लिए कुछ पंडालों की थीम बन गए हैं… खबरों के मुताबिक केस्टोपुर प्रफुल्ल कानन पचीम अदीबश ब्रिंडो पूजा में एक पंडाल में सोनू सूद की मूर्ति लगाई गई है.

18 साल से आयोजित हो रहे इस पूजा पंडाल में कोरोना संकट के दौरान की पांच घटनाओं को दिखाया गया है..जिसमें अभिनेता सोनू सूद का एक मिट्टी का मॉडल लगाया गया है जो प्रवासी मजदूरों को बस में लाने में मदद करता दिख रहा है..

उन्होंने पिछले 5-6 महीनों में दिन रात एक कर गरीबों का पेट भरा और उन्हें उनके घर तक पहुंचाया. अभी भी लगातार सोनू सूद जरूरतमंदों की मदद कर रहे हैं…जब हजारों-लाखों मजदूर अपने गांव की ओर पैदल चल दिए तो सोनू सूद ने उन्‍हें घर भेजने की व्‍यवस्‍था की.. सोनू सूद ने भूखों का पेट भरने की कोशिश की. अब स्वास्थ्य से लेकर पढ़ाई तक सोनू सूद ने मदद का हाथ बढ़ा दिया है.

About Author

Naina Shrivastava

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *