New Delhi: कोरोना काल में एक ओर लगातार लोगों का रोजगार छिनने के साथ बेरोजगारी में इजाफा हुआ है. तो वहीं रिलायंस इंडस्ट्री ने एक अच्छी पहल की है. जानकारी के अनुसार रिलायंस इंडस्ट्री की सुरक्षा की जिम्मेदारी अब रेलवे सुरक्षा बल सीआरपीएफ जवानों के बच्चों के कंधों पर होगी, रिलायंस ग्रुप सपोर्ट सर्विसेस प्रायवेट लिमिटेड ने आरपीएफ में कार्यरत व रिटायर्ड जवानों के बेरोजगार बच्चों की भर्ती करने का निर्णय लिया है.

रिलायंस इंडस्ट्री ने अब आरपीएफ के रिटायर्ड हो चुके स्टाफ के बेरोजगार बच्चों को नौकरी देने का निर्णय लिया है. इसके लिए रिलायंस से रेल मंत्रालय सहित सभी जोन मुख्यालय को पत्र लिखकर सूचित किया है, जिस पर बिलासपुर जोन में काम की शुरुआत कर दी गई है.

रेलवे सुरक्षा बल भी अर्द्ध सैनिक बल में आते हैं, लेकिन जवानों की सेवानिवृत्ति 50 साल में होती है. ऐसे में पूर्व आरपीएफ जवानों की सेवाएं तो नहीं ली जा सकती, लेकिन उनके बच्चों की अवसर जरूर दिया जा सकता है.

इसकी प्रक्रिया भी शुरू कर दी गई है. इस कार्य के लिए बेरोजगार उम्मीदवारों के पास स्नातक की डिग्री होना जरूरी है, जिसके उम्मीदवार 14 अक्टूबर तक समूह की वेबसाइट पर ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं.

उम्मीदवारों की तैनाती 3.75 लाख रुपए यानि 20 से 25 हजार रुपए प्रतिमाह पैकेज के पर अफसर कैडर के पदों पर होगी. इन्हें समूह की ओर से दी जाने वाली सारी सुविधा उपलब्ध कराई जाएगी. उम्मीदवारों की तैनाती देश के किसी भी शहर में स्थित समूह की इंडस्ट्री में दी जाएगी. इससे पूर्व रिलायंस समूह प्रथम चरण में सेना और अन्य सुरक्षा बलों के दस हजार पूर्व सैनिकों को रोजगार उपलब्ध करा चुका है. दूसरे चरण में आरपीएफ जवानों के बच्चों की बारी आई है.

About Author

Naina Shrivastava

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *