New Delhi: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए राजमाता विजया राजे सिंधिया के जन्म शताब्दी वर्ष के समापन दिवस समारोह के अवसर पर विशेष स्मारक सिक्के का विमोचन किया. विमोचन के बाद पीएम मोदी ने कहा कि- पिछली शताब्दी में भारत को दिशा देने वाले कुछ एक व्यक्तित्वों में राजमाता विजयाराजे सिंधिया भी शामिल थीं.. राजमाताजी केवल वात्सल्यमूर्ति ही नहीं थीं..वो एक निर्णायक नेता थीं और कुशल प्रशासक भी थीं.

आर्टिकल 370 खत्म करके देश ने उनका बहुत बड़ा सपना पूरा किया है और ये भी कितना अद्भुत संयोग है कि रामजन्मभूमि मंदिर निर्माण के लिए उन्होंने जो संघर्ष किया था, उनकी जन्मशताब्दी के साल में ही उनका ये सपना भी पूरा हुआ है.

राष्ट्र के भविष्य के लिए राजमाता ने अपना वर्तमान समर्पित कर दिया था.. देश की भावी पीढ़ी के लिए उन्होंने अपना हर सुख त्याग दिया था..राजमाता ने पद और प्रतिष्ठा के लिए न जीवन जीया, न राजनीति की.
राजमाता के आशीर्वाद से देश आज विकास के पथ पर आगे बढ़ रहा है.. गाँव, गरीब, दलित-पीड़ित-शोषित-वंचित, महिलाएं आज देश की पहली प्राथमिकता में हैं.

ऐसा है 100 का सिक्का

100 रुपए के विशेष सिक्के पर एक तरफ राजमाता की तस्वीर है. वहीं सिक्के के ऊपरी हिस्से पर हिंदी में ‘श्रीमती विजया राजे सिंधिया की जन्म शताब्दी’ लिखा है. इसके अलावा उनके जन्म का साल 1919 और जन्म शताब्दी 2019 लिखा हुआ है. सिक्के की दूसरी तरफ हिंदी और अंग्रेजी में भारत लिखा हुआ है और अशोक स्तंभ बना है.

About Author

Naina Shrivastava

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *