ये कानून अनुच्छेद 14 और 21 का उल्लंघन होगा, उनको संविधान पढ़ना चाहिए। क्या आप विशेष विवाह अधिनियम खत्म कर देंगे। देश के बेरोज़गार नौजवानों का ध्यान हटाने के लिए BJP ये सब ड्रामे कर रही है: कुछ राज्यों द्वारा ‘लव-जिहाद’ के खिलाफ कानून बनाए जाने पर असदुद्दीन ओवैसी, AIMIM

New Delhi: कुछ राज्यों द्वारा बनाए गए लव जिहाद पर कानून को लेकर राजनीति तेज हो गई है. इस कानून को लेकर असदुद्दीन ओवैसी ने भी अपनी प्रतिक्रिया दी है. ओवैसी ने कहा कि- ये कानून अनुच्छेद 14 और 21 का उल्लंघन होगा, जो ये कानून बना रहे हैं उन्हें संविधान पढ़ना चाहिए..

एआईएमआईएम चीफ असदुद्दीन ओवैसी ने लव जिहाद पर कानून लाने वाले राज्‍यों को संविधान पढ़ने की नसीहत दी है.. उन्होंने कहा कि- अगर ऐसा ही करना है तो स्‍पेशल मैरिज ऐक्‍ट को ही ख’त्‍म कर दें.. बीजेपी बेरोजगार युवाओं को भटकाना चाहती है..

TRS, BJP,कांग्रेस ये सभी पार्टी सिर्फ चुनाव के समय में ही एक्टिव होती हैं जबकि हमारी पार्टी साल के 12 महीने काम करती हैं, हमें विश्वास है कि हमने जो काम किया है उससे हमें अच्छा नतीजा मिलेगा और हमें कामयाबी हासिल होगी…

हैदराबाद में बाढ़ आई थी मोदी सरकार ने उस समय क्‍या मदद दी? मोदी सरकार जीएचएमसी चुनावों को सांप्रदायिक रंग देना चाहती है लेकिन इस बार यह काम नहीं करेगा क्‍योंकि लोग असलियत जानते हैं..

एमपी के सीएम शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि प्रदेश में लव के नाम पर जिहाद की इजाजत नहीं होगी.. राज्‍य के गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने कहा कि इसे रोकने के लिए हम इसी सत्र में कानून ला रहे हैं.. इस कानून के तहत लव जिहाद और धर्मांतरण के खिलाफ पीड़ित के अभिभावक और परिजन शिकायत कर सकते हैं..। अगर कोई अपनी मर्जी से धर्मांतरण करना चाहता है तो उसके एक महीने पहले कलेक्टर के यहां आवेदन देना होगा.

About Author

Naina Shrivastava

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *