New Delhi: मुंबई पुलिस कमिश्नर परमबीर सिंह को उनके पद से हटाने की मांग चल रही है. अर्नब गोस्वामी ने परमबीर सिंह को ब’र्खास्त करने की और सार्वजनिक रूप से माफी मांगने की बात कही है. दरअसल, BARC ने रिपबल्कि टीवी को ईमेल के जरिए बताया है, उनकी रिपब्लिक के खिलाफ कुछ भी नहीं मिला है. वहीं, FIR की कॉपी में रिपब्लिक टीवी का नाम नहीं है.

एक समाचार विज्ञप्ति में, मीडिया दिग्गज ने बताया कि रिपब्लिक मीडिया नेटवर्क के प्रधान संपादक और प्रबंध निदेशक अर्नब गोस्वामी ने अपनी कानूनी टीम फीनिक्स लीगल को निर्देश दिया है कि वह मुंबई पुलिस आयुक्त परम बीर सिंह पर 200 करोड़ रुपए के हर्जाने की कार्यवाही शुरू करे..

जिसमें अर्नब गोस्वामी की प्रतिष्ठा को नुकसान के लिए 100 करोड़ रुपए, और रिपब्लिक मीडिया नेटवर्क को हुए नुकसान के लिए 100 करोड़ रुपए.. वर्तमान में, रिपब्लिक की कानूनी टीमें परम बीर सिंह के खिलाफ मानहा’नि का मुकदमा दायर करने की प्रक्रिया में हैं.

मुंबई पुलिस का प्रतिनिधित्व करने वाले वरिष्ठ अधिवक्ता ने बॉम्बे एचसी में दर्ज रिपब्लिक टीवी के खिला’फ पुलिस आयुक्त के आरो’प का विरोध करते हुए कहा कि टीआरपी घोटाला मामले में एफआईआर में रिपब्लिक टीवी का नाम नहीं है.. मुंबई पुलिस आयुक्त परम बीर सिंह द्वारा लगाए गए आरो’पों से मुंबई पुलिस खुद को दूर करती दिख रही थी।

हाईकोर्ट ने भी कह दिया है कि अगर मुंबई पुलिस को टीआरपी मामले में अर्नब गोस्वामी से पूछताछ करनी होगी तो उन्हें पहले समन भेजना होगा. कोर्ट ने कहा कि- जब रिपब्लिक टीवी का कहीं नाम नहीं है तो ऐसे में गिरफ्तारी का तो कोई सवाल ही पैदा नहीं होता है.

About Author

Naina Shrivastava

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *