New Delhi: भारत के आठ समुद्र तटों को सुरक्षा, साफ-सफाई और जागरूकता के लिए ब्लू फ्लैग (Blue Flag) सर्टिफिकेट मिला है. सबसे खास बात तो ये है कि भारत दो साल में आठ ब्लू फ्लैग से सम्मानित होने वाला पहला देश बन गया है. पीएम मोदी ने ट्वीट कर कहा कि-भारत के 8 समुद्र तटों को प्रतिष्ठित ब्लू फ्लैग प्रमाणन प्राप्त है.. यह भारत के लिए गर्व का पल है. वहीं यूजर्स भी लगातार अपनी प्रतिक्रिया दे रहे हैं. एक यूजर ने ट्वीट कर कहा कि- मेरा भारत महान.

ब्लू फ्लैग प्रमाणन डेनमार्क की एक संस्था की ओर से दिया जाता है. इसके लिए चार प्रमुख मानकों के आधारों पर आकलन किया जाता है. इनमें पर्यावरण की शिक्षा एवं सूचना, नहाने के पानी की गुणवत्ता, पर्यावरण प्रबंधन और समुद्र तटों पर संरक्षण, सुरक्षा एवं सेवा शामिल है.

भारत को मिले 8 ब्लू फ्लैग को लेकर पर्यावरण मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने भी इसे गर्व का क्षण बताया है. उन्होंने ट्वीट कर कहा कि-यह मान्यता भारत के समुद्र तटों के संरक्षण और सतत विकास के प्रयासों को वैश्विक मान्यता है. पांच राज्यों और दो केंद्रशासित प्रदेशों के आठ समुद्री तटों को ‘ब्लू फ्लैग’ मिला है.

गुजरात में शिवराजपुर, दीव में घोघला, कर्नाटक में कासरकोड और पदुबद्री, केरल में कप्पाड़, आंध्र प्रदेश में रुशिकोंडा, ओडिशा में गोल्डन और अंडमान और निकोबार का राधानगर समुद्र तट को ब्लू फ्लैग मिला है. सरकार ने 18 सितंबर को इन आठ तटों को प्रतिष्ठित इंटरनेशनल इको-लेबल ब्लू फ्लैग प्रमाणन के लिए प्रस्ताव भेजा था.

About Author

Naina Shrivastava

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *